csslearn.online
HTML CSS JAVASCRIPT SQL PYTHON PHP LIVE-CODE W3.CSS
GAME BLOG

× login
Remember me
Forgot password?
Tutorials References
×

JavaScript Tutorial



JavaScript is the world's most popular programming language.

JavaScript is the programming language of the Web.

JavaScript is easy to learn.

This tutorial will teach you JavaScript from basic to advanced.

Try it Yourself


What is JavaScript in Hindi

JavaScript एक बहुत ही commonly used client side scripting language होती है. या हम कह सकते हैं इसे सभी major web browsers में इस्तमाल किया जाता है.

इसमें सबसे बड़ी library ecosystem होती है किसी भी programming language की. चूँकि यह एक scripting language होता है इसलिए इसके code को एक HTML page में भी लिखा जा सकता है.

तो जब एक user requests करता है HTML page में, जिसमें की एक JavaScript present होती है, तब ये script को browser तक भेजा जाता है और ये browser पर ही निर्भर करता है की वो इसके सह क्या करना चाहती है.

वैसे देखा जाये टी JavaScript की कोई भी relation नहीं होती है Java के साथ. बस इसके नाम में Java का इस्तमाल होने के कारण JavaScript को कहा जाता है : The World’s Most Misunderstood Programming Language (दुनिया की सबसे गलत समझी जाने वाली language)

JavaScript Official Name है ECMAScript defined under Standard ECMA-262.

JavaScript के Frameworks क्या हैं? Hindi

जिन Frameworks को Most frequently इस्तमाल किया जाता है वो हैं React JS, Angular JS, Create JS, jQuery, nodeJS इत्यादि..

जावास्क्रिप्ट का परिचय

JavaScript उन 3 Languages में से एक Language होता है जिसे की सभी web developers को जरुर से सीखना चाहिए, चलिए उन तीनों languages के विषय में भी जानते हैं.

1. HTML इसका इस्तमाल Web Pages के content को define करने के लिए किया जाता है.

2. CSS इसका इस्तमाल Web Pages का Layout को specify करने के लिए किया जाता है.

3. JavaScript इसका इस्तमाल Web Pages के Behavior को program करने के लिए किया जाता है. केवल Web pages ही वो एकमात्र जगह नहीं होती जहाँ की JavaScript का इस्तमाल होता है. बहुत से desktop और server programs में भी JavaScript का उपयोग होता है.

Node.js ऐसा की एक Program होता है. कुछ databases, जैसे की MongoDB और CouchDB, में JavaScript को एक उनके programming language के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है.

जावा और जावास्क्रिप्ट में अंतरैं? Hindi

अक्सर लोगों को यही लगता है की जावा और जावास्क्रिप्ट के बीच का अंतर समान ही हैं. लेकिन असल में ऐसा कुछ भी नहीं है. तो चलिए इन दोनों के बीच के अंतर के विषय में जानते हैं.

JavaScript बिलकुल भी Java के समान नहीं है. मैं आपको और एक बार बताना चाहता हूँ की JavaScript और Java दोनों अलग अलग हैं.

वैसे इन दोनों के नाम बहुत ही मिलते झूलते जरुर हैं, जो की एक doubt create करते हैं लोगों के मन में. जहाँ इस language को primarily एक scripting language के तोर पर इस्तमाल किया जाता है HTML pages में, वहीँ Java एक real programming language होता है जो की पूरी तरह से दुसरे काम में इस्तमाल किया जाता है.

वहीँ Java को सीखना थोडा कठिन हो सकता है. इसे Sun Microsystem के द्वारा develop किया गया इस्तमाल के लिए उन सभी चीज़ों में जहाँ की computing power की जरूरत थी..

JavaScript को develop किया था Brendan Eich ने, जो की उस समय में Netscape में काम किया करते था, उन्होंने इसे एक client side scripting language के तोर पर develop किया था (वैसे ऐसा कुछ fundamental reason नहीं है की क्यूँ इसे एक server side environment में इस्तमाल नहीं किया जा सकता है)..

Originally इस language का नाम था Live Script, लेकिन जब इसे release किया जाने वाला था, तब Java बहुत ही popular हो चूका था. इसलिए last possible moment में ही Netscape ने इसका नाम बदलकर “JavaScript” रख दिया..

Java और JavaScript दोनों ही वंसज हैं C और C++ के, लेकिन ये languages अपने पूर्वजों से बिलकुल ही अलग काम करते हैं. दोनों ही languages object oriented होती हाँ और वो कुछ समान syntax भी share करते हैं. लकिन इसमें differences ज्यादा होती हैं similarities की तुलना में..

JavaScript के Advantages और Disadvantages Hindi

दुसरे computer languages के ही तरह, JavaScript की भी कुछ advantages और disadvantages हैं. जहाँ पहले इसे केवल कुछ कार्यों के करने तक ही limit कर दिया जाता था वहीँ आजकल इसे बहुत से कार्यों में उपयोग किया जाता है.

जावास्क्रिप्ट के फायदे

1. Speed. Client-side JavaScript बहुत ही fast होती है क्यूंकि ये immediately run करती है client-side browser में. जब तक outside resources की जरुरत हो, JavaScript बिलकुल ही unhindered रहती है network calls से एक backend server में.

इसे client side में compiled होने की कोई भी जरुरत नहीं है जिससे की इसे कुछ speed advantages मिलते हैं.

2. Simplicity. JavaScript बहुत ही simple होती है सीखने के लिए और साथ में implement करने के लिए भी.

3. Popularity. JavaScript को पुरे web में इस्तमाल किया जाता है. साथ में इसे सीखने के लिए भी internet पर बहुत से resources मेह्जुद हैं. StackOverflow और GitHub ऐसे दो बड़े websites हैं जहाँ से आप Javascript के विषय में सबकुछ जान सकते हैं.

4. Interoperability. JavaScript बड़ी आसानी से दुसरे languages के साथ compatible होती है, साथ में इसे बहुत से applications में इस्तमाल भी किया जाता है. PHP और SSI scripts के विपरीत, JavaScript को आसानी से किसी भी web page में insert किया जा सकता है.

JavaScript का इस्तमाल दुसरे scripts के भीतर भी किया जा सकता है जिन्हें की अलग languages जैसे की Perl और PHP में लिखा गया है.

5. Server Load. ये client-side में इस्तमाल होने के कारण, website server में इसकी demand कम हो जाती है.

6. Rich interfaces. Drag, या drop components या फिर slider के होने से ये आपके website को एक rich interface प्रदान करती है.

7. Versatility. अभी तो JavaScript को बहुत सारे servers में भी इस्तमाल किया जाने लगा है. JavaScript को front-end में clients server में इस्तमाल किया जाता है, साथ ही अभी तो एक पूरा entire JavaScript app भी बनाया जा सकता है front से लेकर back तक केवल JavaScript के मदद से.

जावास्क्रिप्ट के नुकसान Hindi

1. Client-Side Security. चूँकि ये code execute होता है users के computer से, इसलिए कुछ cases में इसे exploit भी किया जा सकता है malicious purposes के लिए. यही वो एक मुख्य कारण है जिसके लिए कुछ लोग Javascript को disable करना ज्यादा पसंद करते हैं.
2.Browser Support. JavaScript को कभी कबार अलग अलग browsers में differently interpret किया जाता है. जहाँ की server-side scripts हमेशा एक ही प्रकार का output produce करती है, वहीँ client-side scripts की output थोड़ी बहुत unpredictable होती है.
वैसे ये कोई बड़ी समस्या नहीं है क्यूंकि जब तक बड़े और popular browsers में ये सही तरीके से काम कर रहे हों, तब तक सब safe होता है.

Examples in Each Chapter

With our "Try it Yourself" editor, you can edit the source code and view the result.

JavaScript is a lightweight, interpreted programming language. It is designed for creating network-centric applications. It is complimentary to and integrated with Java. JavaScript is very easy to implement because it is integrated with HTML. It is open and cross-platform.

Why to Learn Javascript

Javascript is a MUST for students and working professionals to become a great Software Engineer specially when they are working in Web Development Domain. I will list down some of the key advantages of learning Javascript:

There are many useful Javascript frameworks and libraries available:

It is really impossible to give a complete list of all the available Javascript frameworks and libraries. The Javascript world is just too large and too much new is happening.

Applications of Javascript Programming

As mentioned before, Javascript is one of the most widely used programming languages (Front-end as well as Back-end). It has it's presence in almost every area of software development. I'm going to list few of them here:

Prerequisites

For this Javascript tutorial, it is assumed that the reader have a prior knowledge of HTML coding. It would help if the reader had some prior exposure to object-oriented programming concepts and a general idea on creating online applications.